Pages

Sunday, 12 January 2014

            स्वामी विवेकानन्द जी को श्रद्धांजलि                       दिनांक- 13/01/2014

जोधपुर में गत 12 जनवरी 2014 रविवार को स्वामी विवेकानन्द सार्ध शती समारोह के समापन अवसर पर विवेकानन्द  केन्द्र कन्याकुमारी की जोधपुर शाखा द्वारा नगर के दो प्रमुख स्थानों पर "पुष्पांजलि एवं दीप प्रज्ज्वलन कार्यक्रम" आयोजित किया गया। विश्वविद्यालय के मुख्य कार्यालय के सामने स्थित स्वामी विवेकानन्दजी  की मूर्ति पर प्रातः 10 बजे तथा सायं  6 बजे शास्त्री नगर सर्कल पर आयोजित दोनों  कार्यक्रमों में स्थानीय प्रबुद्ध जन, माताएँ  तथा महाविद्यालय के युवाओं ने जमकर भाग लिया। विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी की संयुक्त महासचिव माननीया रेखा दवे तथा राजस्थान प्रान्त के सह प्रान्त संचालक प्रो. भवानीलाल माथुर ने दीप प्रज्ज्वलन एवं पुष्पांजलि करते हुए कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। सैंकड़ो लोगों ने स्वामीजी को श्रद्धा अर्पण करते हुए  उनके विशाल कट आउट पर माल्यार्पण तथा  पुष्पांजलि प्रदान की। अखंड भारत की रंगोली पर 150 दिये जलाये गए  और बड़ी माईक पर बज रही स्वामीजी के प्रेरणादायी उद्धरण एवं गीतों ने शहर के पुरे माहोल को उत्साहपूर्ण बना दिया था। कार्यक्रम के अंत में सभी ने  श्रृंखलाबद्ध  होकर जयघोष लगाये - "मेरा भारत अमर भारत "… "हमारा भारत समर्थ भारत ".... "स्वामी विवेकानन्द जी की जय ,भारत माता की जय .........."  और आह्वान किया गया कि स्वामीजी के इन विचारों को हम दैनिक जीवन में जीना सीखें  तथा केन्द्र द्वारा समाज के सभी वर्गों के लिए आयोजित तमाम गतिविधियों में सहभागी होकर स्वामी विवेकानन्दजी के सपनों को साकार करें।

















Friday, 6 December 2013

Finally the date was decided for the PRASHIKSHAN....CHALE GAON KI OR in Jodhpur
All the youths who gave their name for the program - CHALE GAON KI OR are to be assembled in Geeta Bhavan(Kendra Karyalay) on next Sunday(08/12/13) at 9.00 AM. The training will be held for whole day and Adarniya Rachana Didi  will be with us.

Monday, 25 November 2013

Very useful link reg Hindu Dharma material-------

http://www.cincinnatitemple.com/articlesRel.html

Cincinnati Temple





eBooks, Articles on Hinduism
                                                              print Print this page

Opening Prayer

Vakratunda Mahakaya, SuryaKoti Samaprabha, Neervighna Kurume Deva, Sarva Karyeshu Sarvada, Om Ekdantaye Vidmahe, Vakratundaaya Dheemahi, Tanno Dhanti Prachodayaat, Om Gum Ganapataya Namah! (Shri Ganesh Opening Prayer)

Aum Bhoor Bhuwah Swaha, Tat Savitur Varenyam Bhargo Devesya Dheemahi Dhiyo Yo Naha Prachodayat (Gayatri Mantra)

Oh God! Thou art the Giver of Life, Remover of pain and sorrow, The Bestower of happiness, Oh! Creator of the Universe, May we receive thy Supreme sin-destroying light, May Thou guide our intellect in the right direction. (Gayatri Mantra in English)